गृहक्लेश के चलते, बच्चों के साथ मां ने खाया जहर




यूपी के मुजफ्फरनगर में गृहक्लेश के चलते तीन बच्चों के साथ जहर खाने वाली महिला के परिजनों ने उसके शौहर पर कोल्ड ड्रिंक में जहर देने का आरोप लगाया है। शौहर पर एक साल से लगातार महिला के साथ मारपीट व उत्पीड़न करने का आरोप लगाया है। सोमवार रात घटित सनसनीखेज वारदात में महिला व उसके तीन साल के बेटे की मौत हो चुकी है, जबकि दो बेटियां अभी भी मेरठ के एक अस्पताल में जिंदगी-मौत के बीच जूझ रही हैं।

शहर कोतवाली क्षेत्र के गांव न्याजूपुरा निवासी रमजानी अहमद की बेटी गुलशन (30) का निकाह करीब दस साल पूर्व मोहल्ला किदवईनगर निवासी शादी-समारोह में हलवाई का काम करने वाले राशिद से हुआ था। दंपती के चार बच्चे हैं, जिनमें तीन बेटियां इलमा (8), इकरा (5), अरवीरा (4) और इकलौता बेटा रिहान (3) शामिल हैं। सोमवार देर रात गुलशन ने अपनी ससुराल में तीन बच्चो रिहान, इकरा व अरवीरा को कोल्ड ड्रिंक में जहरीला पदार्थ मिलाकर पिलाने के बाद खुद भी पी लिया था, जबकि इलमा घर से बाहर होने के कारण उसे जहरीली कोल्ड ड्रिंक नहीं पिलाई जा सकी। तीनों बच्चों व महिला की हालत बिगड़ने पर परिजनों ने उन्हें जिला अस्पताल पहुंचाया, जहां रिहान और उसकी मां गुलशन को मृत घोषित करते हुए दोनों बेटियों को मेरठ रेफर कर दिया गया था। मेरठ में दोनों बेटियों इकरा व अरवीरा अभी भी जिंदगी-मौत के बीच झूल रहीं हैं।

वहीं मंगलवार सुबह गुलशन के मायके वाले दर्जनों ग्रामीणों के साथ कोतवाली पहुंचे और उसके शौहर राशिद पर तीनों बच्चों व गुलशन को कोल्ड ड्रिंक में जहर मिलाकर देने का आरोप लगाया। गुलशन के बड़े भाई तनवीर अहमद ने बताया कि करीब एक साल से लगातार राशिद द्वारा गुलशन के साथ मारपीट की जा रही थी। इस प्रताड़ना से गुलशन का मानसिक संतुलन भी बिगड़ गया था, जिसका उपचार कराया जा रहा था। आरोप लगाया कि सोमवार रात भी राशिद ने ही गृहक्लेश के चलते गुलशन व तीनों बच्चों को जहर दिया। परिजन व ग्रामीणों ने कार्रवाई की मांग को लेकर थाने में हंगामा भी किया, जिन्हें पीएम रिपोर्ट आने के बाद कार्रवाई का आश्वासन देते हुए समझा-बुझाकर शांत किया गया। उधर, देर रात तक कुछ लोगों दोनों पक्षों में समझौता कराने को प्रयासरत है।

वहीं मोहल्ला किदवईनगर स्थित ससुराल में बच्चों को जहरीली कोल्ड ड्रिंक पिलाकर खुद भी पीने वाली गुलशन व उसके मासूम बेटे रिहान के शवों को मंगलवार देर शाम पोस्टमार्टम के बाद मायके वाले गांव न्याजूपुरा ले गए। उसका शौहर राशिद व अन्य ससुराल पक्ष के लोग भी गुलशन के मायके पहुंचे, जहां मृतकों के चेहरे उन्हें दिखाए गए। इसके बाद गमगीन माहौल में शवों को सुपुर्दे-खाक कर दिया गया।

इन्होंने कहा…
इंस्पेक्टर अनिल कपरवान का कहना है कि प्रथम दृष्टया जांच में महिला द्वारा खुद ही बच्चों को कोल्ड ड्रिंक में जहर देने व खुद भी पीने की बात सामने आ रही है। जांच के दौरान घटना के समय पति राशिद के गांव रथेड़ी में शादी-समारोह में मौजूद होने की बात सामने आ रही है। मायके पक्ष द्वारा फिलहाल कोई तहरीर नहीं दी गई है। तहरीर आती है तो उसी के आधार पर आगे की कार्रवाई की जाएगी।




Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*