जम्मू-कश्मीर: ईद से पहले आतंकियो की नापाक हरकत, अगवा जवान औरंगजेब की हत्या की




नई दिल्ली। जम्मू-कश्मीर में ईद से पहले आतंकियों ने रमजान के महीने में नापाक हरकत की है। कश्मीर के पुलवामा में आतंकवादियों ने गुरुवार को सेना के जवान का अपहरण किया था और उसकी देर शाम हत्या कर दी। सेना के जवान औरंगजेब का शव पुलवामा के गूसो इलाके में पाया गया है। औरंगजेब पुंछ जिले के निवासी थे। जवान के अगवा होने की खबर के बाद से पुलिस और सेना ने तलाशी अभियान चला रखा था। जानकारी के मुताबिक औरंगजेब उसी कमांडो ग्रुप का हिस्सा थे, जिसने हिज्बुल कमांडर समीर टाइगर को ढेर किया था। औरंगजेब 44 राष्ट्रीय राइफल्स में बतौर राइफलमैन शोपियां जिले में तैनात थे। आतंकियों ने उस वक्त औरंगजेब का अपहरण किया, जब वह ईद की छुट्टी लेकर घर लौट रहे थे। औरंगजेब ऐंटी-टेरर ग्रुप के सदस्य थे। पुलवामा और आसपास के इलाके में आतंकी काफी सक्रिय हैं। आतंकवादियों ने बुधवार देर रात ही एक स्थानीय नागरिक और पुलिसकर्मी को भी अगवा कर लिया था। इन दोनों का अब तक कोई सुराग नहीं लग पाया है। अगवा पुलिसकर्मी की पहचान मोहम्मद इश्क अहमद के रूप में हुई है और वह एक स्पेशल पुलिस ऑफिसर (एसपीओ) हैं। वहीं अगवा किए गए स्थानीय नागरिक की पहचान फिलहाल नहीं हो पाई है।




Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*