पाकिस्तान आया घुटनों पर, खत लिखकर पीएम मोदी से की ये अपील




नई दिल्ली। भारत में लोकसभा चुनाव जारी है इस बीच पाकिस्तान के पीएम इमरान खान बीते महीने पीएम नरेंद्र मोदी को एक खत लिखा है। इस खत के माध्यम से इमरान खान ने कहा है कि जम्मू-कश्मीर समेत अन्य समस्याओं का निस्तारण करने के लिए भारत पाक को चर्चा करनी जरूरी है।
इमरान ने मोदी को उनकी पाकिस्तान को लेकर कही बात के बाद खत भेजा है। जिसमें उन्होंने 23 मार्च को पाकिस्तान राष्ट्रीय दिवस के मौके पर पाकिस्तान के लोगों को शुभकामनाएं देते हुए कहा था कि अब पाकिस्तान के लोगों के लिए समय आ गया है कि वह आतंक और हिंसा से मुक्त वातावरण में एक प्रगतिशील, लोकतांत्रिक और समृद्ध क्षेत्र के लिए काम करें।

हालांकि इमरान ने पाकिस्तान में पसरे आतंकवाद को लेकर कुछ नहीं कहा लेकिन वह कश्मीर का नाम लेना भी नहीं भूले। इससे पहले उन्होंने सितंबर 2018 को भेजे अपने खत में यूएनजीए में दोनों देशों के विदेश मंत्रियों के बीच बातचीत का प्रस्ताव रखा था।उन्होंने कहा था कि पाकिस्तान आतंक के मुद्दे पर चर्चा करने के लिए तैयार है।

लेकिन कश्मीर में तीन पुलिसकर्मियों की हत्या के बाद भारत ने पाकिस्तान के साथ इस मुलाकात को रद्द कर दिया था। जिसे पाकिस्तान ने दुर्भाग्यपूर्ण करार देते हुए कहा था कि मुलाकात रद्द करने के पीछे भारत ने जो कारण दिए हैं, वो संतोषजनक नहीं हैं। पहचान ना बताने की शर्त पर एक सूत्र ने कहा है कि शायद ही कोई नई सरकार पाकिस्तान से बात कर सुर्खियों में आएगी।

इमरान ने उस वक्त सभी को चौंका दिया था जब उन्होंने कहा था, कि “अगर भाजपा दोबारा सत्ता में आती है तो भारत-पाकिस्तान के बीच शांति वार्ता और कश्मीर मुद्दे को हल करने के लिए बेहतर मौका होगा।अब माना जा रहा है कि भारत और पाकिस्तान के नेता शंघाई सहयोग सम्मेलन के जून में किर्गिस्तान में होने वाले शिखरसम्मेलन में आमने सामने आ सकते हैं।




Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*