पाकिस्तान: गैरकानूनी रूप से डिग्री-डिप्लोमा का दे रहा ऑफर




पाकिस्तान अपनी नापाक हरकतों से बाज नहीं आ रहा है। आतंकवाद और अलगाववाद के बाद अब शिक्षा में भी दखल देने लगा है। घाटी से लेकर जम्मू तक पाकिस्तान अधिकृत जम्मू कश्मीर (पीओजेके) के विश्वविद्यालय और शिक्षा बोर्ड पढ़ाई का ऑफर दे रहे हैं। केंद्र सरकार की रिपोर्ट के आधार पर विश्वविद्यालय अनुदान आयोग (यूजीसी) ने ऐसे शिक्षण संस्थानों में दाखिला ने लेने की सलाह दी है। क्योंकि यह विश्वविद्यालय अनुदान आयोग, अखिल भारतीय तकनीकी शिक्षा परिषद व मेडिकल काउंसिल ऑफ इंडिया से मान्यता प्राप्त नहीं हैं।

मानव संसाधन विकास मंत्रालय के निर्देश के तहत विश्वविद्यालय अनुदान आयोग के सचिव प्रो. रजनीश जैन की ओर से सोमवार को जम्मू कश्मीर के छात्रों व अभिभावकों के नाम एडवाइजरी जारी की गई है। इसके मुताबिक, पाकिस्तान अधिकृत जम्मू कश्मीर के विश्वविद्यालय व उच्च शिक्षण संस्थानों जम्मू कश्मीर में रहने वाले भारतीय छात्रों को डिग्री, डिप्लोमा पढ़ाई को प्रलोभन दे रहे हैं।

छात्र व अभिभावक अनजाने में ऐसे शिक्षण संस्थानों में दाखिला भी ले रहे हैं। पाकिस्तान अधिकृत जम्मू कश्मीर के विश्वविद्यालय व उच्च शिक्षण संस्थान भारत सरकार द्वारा स्थापित नहीं किए गए हैं और न ही भारतीय शिक्षा बोर्ड या संस्थाओं से मान्यता प्राप्त हैं। उदाहरण के तौर पर एजेके और गिलगिट बालटिस्तान जैसे संस्थानों में भारत में मान्यता प्राप्त नहीं है। इसलिए छात्रों और अभिभावकों से आग्रह किया जाता है कि वे ऐसे संस्थानों में दाखिला न लें। क्योंकि उनकी डिग्री, डिप्लोमा आदि को मान्यता नहीं मिलेगी। क्योंकि भारत में ऐसे संस्थान गैरकानूनी हैं।




Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*