राम मंदिर के निर्माण के लिए विहिप ने संतों के साथ मिलकर बनाया खास प्लान




नई दिल्ली। विश्व हिंदू परिषद यानी कि वीएचपी ने राम मंदिर मुद्दे को एक बार फिर से उछालना शुरु कर दिया है। वीएचपी की योजना के मुताबिक, 5 अक्टूबर को दिल्ली में संत समाज के साथ बैठक की जाएगी। इस बैठक में संत समाज ही यह निर्धारित करेगा कि राम मंदिर मुद्दे पर अगला कदम क्या होना चाहिए।
वीएचपी नेता सुरेंद्र जैन के मुताबिक, ‘दिल्ली में 5 अक्टूबर को हाई पावर कमिटी ऑफ सेंट यानी कि उच्चाधिकार समिति की बैठक होगी। इसमें संत समाज यह निर्णय लेगा कि राम मंदिर मामले में आगे क्या होना चाहिए। मीडिया से बात करते हुए सुरेंद्र जैन ने बताया, ‘सर्वोच्च न्यायालय में पिछले 8 साल से मामला था। सर्वोच्च न्यायालय इस मामले में कोई विशेष प्रगति नहीं दिखा पाया। उन्होंने कहा कि रंगनाथ मिश्रा के रिटायरमेंट का भी समय आ गया है। अभी तक मूल केस पर सुनवाई भी नहीं शुरू हुई है तो हिंदू समाज के अंदर अधीरता का वातावरण बन गया है। राजनीतिक दल अपनी राजनीति कर रहे हैं। इतना ही नहीं उन्होंने कांग्रेस पर निशाना साधते हुए कहा कि कभी कांग्रेस याचिका डालती है कि इसका जजमेंट आप 2019 के बाद दें। वह कानूनी पेच लगाकर मामले को भटकाने की कोशिश कर रहे हैं। इस विषय में हम संतों के पास जाना चाहते हैं क्योंकि हमने यह आंदोलन संतों के आदेश से शुरू किया था।’ क्या फिर से कारसेवा भी की जाएगी, इस सवाल के जवाब में वीएचपी नेता ने बताया, ‘इन सभी बातों का फैसला संत ही करेंगे।’




Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*