अंधविश्वास: 10 माह के बच्चे को गर्म सरिया से दागा




नई दिल्ली। अंधविश्वास के नाम पर बच्चों के जीवन से खिलवाड़ बंद होने का नाम नहीं ले रहा है। ताजा मामला बांसवाड़ा जिले के घोड़ी तेजपुर गांव का है। जहां भरे बाजार में भोपे ने तान के इलाज के लिए गर्म सुई से 10 माह के बच्चे की गर्दन पर और माथे को दाग दिया तबीयत बिगड़ने पर नजदीकी आदर्श स्वास्थ्य केंद्र ले गए जहां पर देर शाम को बांसवाड़ा रेफर कर दिया गया। बांसवाड़ा जिला अस्पताल में भी प्राथमिक उपचार करने के बाद बच्चे को उदयपुर के लिए चिकित्सकों ने रेफर कर दिया। बांसवाड़ा जिले के अंबापुरा थाना क्षेत्र के घोड़ी तेजपुर गांव में नंदलाल पुत्र देवला 10 माह का पुत्र 10 दिनों से कान की बीमारी से पीड़ित था परिजन उसे घोड़ी तेजपुर गांव ले गए तथा साथ ही पिपलखुट में नीम हकीमों से भी उपचार कराते रहें लेकिन कोई फर्क नहीं पड़ा। इसके चलते कल देर शाम घोड़ी तेजपुर के बाजार में सरेआम भूपेंद्र नामक व्यक्ति बाजार में कचरा इकट्ठा किया और उसमे आग जलाई, और लोहे की रॉड गर्म करने के बाद बच्चे के पैर पर दाग दिया, जिससे बच्चा चीख पड़ा भूपेंद्र ने इसके बाद दो बार और सुई गर्म की, उसने गर्दन के पिछले हिस्से और माथे पर उसे दाग दिया जिससे बच्चे के माथे व गर्दन पर पर गंभीर निशान हो गए। उपस्थित लोंगो का कहना है ऐसे लोगों की जल्द गिरफ्तारी हो एवं कड़ी से कड़ी सजा मिलनी चाहिये जिससे अंधविश्वासी लोगों एवं भोपो में एक कड़ा मैसज पहुँचे।




Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*