रेस्टोरेंट में नाबालिग से गैंगरेप, पार्क में लहुलुहान हालत में मिली किशोरी




बिलासपुर. हिमाचल प्रदेश के बिलासपुर जिले में एक नाबालिग लड़की से गैंगरेप का मामला सामने आया है. आरोप है कि बिलासपुर जिला मुख्यालय के साथ लगने वाले एक गांव में आरोपी नाबालिग बेटी को जबरन घर से उठा ले गए और एक रेस्टोंरेंट (Restaurant) में दुष्कर्म किया. पुलिस ने फिलहाल, मामला दर्ज कर लिया है और मामले की जांच-पड़ताल की जा रही है.नाबालिग के परिजनों ने पुलिस पर कार्रवाई ना करने का आरोप भी लगाया है.

नाबालिग के पिता के आरोप
नाबालिग के पिता ने बताया कि उसकी तीन बेटियां हैं. वह नेपाल (Nepal) से बिलासपुर जिले में कुछ वर्ष पहले मजदूरी करने आया था. छह अक्तूबर को उसकी आठवीं कक्षा में पढने वाली बेटी जब शाम को घर में नहीं दिखी तो उसने उसकी काफी तलाश की. रात भर तलाश में भटकते रहे. पिता ने बताया कि उसकी बेटी को बिलासपुर मेन मार्किट में ही एक बार रेस्टोरेंट में काम करने वाला युवक और बिलासपुर चंडीगढ रोड पर ही अन्य रेस्टोरेंट में काम करने वाले दो और युवक जबरदस्ती उठाकर ले गए. रात भर इन्होंने लडकी के साथ दुष्कर्म किया.

दूध में मिलाया नशाली पर्दाथ

पिता ने आरोप लगाया है कि बेटी को दूध में नशे पिलाकर उसके साथ दुष्कर्म किया गया. पिता ने बताया कि अगले दिन वह महिला पुलिस थाने (Women Police Station) में गए, लेकिन वहां तैनात महिला पुलिस कर्मियों ने उसके बयान पर एफआईआर दर्ज करने के लिए गंभीरता नहीं बरती. साथ ही लडकी को आरोपी युवक के मोबाइल पर फोन करके पुलिस कहती रही कि वह लडकी को लेकर आ जाए.

पुलिस ने नहीं की कार्रवाई
सारा दिन महिला पुलिस थाना से कोई कार्रवाई नहीं हुई. शाम को पिता को बताया गया कि उसकी बेटी बस स्टैंड के पीछे किसी पार्क में है. वहां पहुंचे पिता ने जब पुलिस को कार्रवाई के लिए कहा तो महिला पुलिस कर्मियों ने कहा कि आपको आपकी बेटी मिल गई और अब आगे इसमें कुछ नहीं होगा. इसे लेकर घर चले जाओ. अनपढ पिता भी बेटी को साथ लेकर घर चला गया. वहां जाकर जब बेटी लहुलुहान हालत में देखा तो उसके रौँगटे खडे हो गए.

मेडिकल जांच के लिए नहीं ले गई पुलिस
पिता का कहना है कि महिला पुलिस को उसने बच्ची का डॉक्टरी मुआयना करने के लिए कहा, लेकिन पुलिस ने इंकार कर दिया, जिससे वह बेटी को लेकर घर आ गया. पिता ने कुछ जान पहचान के लोगों और पंचायत प्रतिनिधियों तथा चाइल्ड हेल्पलाइन से जुडे हुए लोगों से संपर्क किया. इसके बाद जाकर महिला पुलिस ने इस मामले में नाबालिग के अपहरण की एफआईआर दर्ज की. पुलिस इसके बावजूद बेटी का मेडिकल करवाने के लिए गंभीरता नहीं दिखा रही थी.

पुलिस जांच कर रही है-डीएसपी
पिता का कहना है कि उन्होंने जब पुलिस को बार-बार मेडिकल करवाने के लिए कहा तो पिछले दो दिन से जिला अस्पताल में बेटी का मेडिकल हुआ है. हालांकि, आरोपी अभी खुलेआम घूम रहे हैं. बिलासपुर के डीएसपी संजय शर्मा का इस मामले मे कहना है कि पुलिस ने केस दर्ज कर लिया है और जांच की जा रही है.




Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*