आदित्य नहीं, महाराष्ट्र में शिवसेना का ये नेता बनेगा नया मुख्यमंत्री, जिसकी किसी को नही है उम्मीद




भारतीय जनता पार्टी द्वारा महाराष्ट्र में सरकार बनाने से इंकार करने के बाद अब यहां पर शिवसेना एनसीपी के साथ मिलकर सरकार बनाने की तैयारी कर रही है। इसी बीच खबर आ रही है कि शिवसेना की ओर से आदित्य ठाकरे के स्थान पर अध्यक्ष उद्धव ठाकरे मुख्यमंत्री बन सकते हैं। शिवसेना के विधायक उद्धव ठाकरे को मुख्यमंत्री बनाने की मांग कर रहे हैं। जबकि उद्धव अपने बेटे आदित्य ठाकरे को सीएम बनाना चाह रहे थे।  राज्यपाल ने शिवसेना को संख्याबल के बारे में जानकारी देने के लिए आज शाम 7.30 बजे तक का समय दिया है। सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार, शिव सेना और एनसीपी का गठबंधन होने पर मुख्यमंत्री पद शिवसेना और उप-मुख्यमंत्री पद राकांपा के पास रहेगा। जबकि इस गठबंधन को बाहर से समर्थन देने वाली कांग्रेस को विधानसभा अध्यक्ष का पद मिल सकता है।

महाराष्ट्र में शिवसेना कर रही है कुछ ऐसा, जिसकी नहीं होगी पहले किसी को उम्मीद

 महाराष्ट्र में सरकार गठन के लिए शिव सेना एनडीए और मोदी सरकार से नाता तोडऩे जा रही है। लगभग 25 साल तक साथ रहे शिव सेना का भाजपा के साथ संबंध टूटने वाला है।  राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी के प्रमुख शरद पवार की शर्त तो देखते हुए शिवसेना सांसद और मोदी कैबिनेट में मंत्री अरविंद सावंत ने केंद्रीय मंत्रिमंडल से इस्तीफा देने की घोषणा की है। अरविंद सावंत ने सोशल मीडिया के माध्यम से ये जानकारी दी है।  राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी ने एनडीए से अलग होने की स्थिति में ही शिवसेना को समर्थन देने की शर्त रखी थी। इससे पहले भारतीय जनता पार्टी ने ये कहते हुए सरकार बनाने से इंकार कर दिया था कि उसके बाद बहुमत नहीं है। इसके बाद राज्यपाल ने शिवसेना को सरकार बनाने का न्योता दिया है। भाजपा और शिवसेना के बीच सीएम की कुर्सी को लेकर बात नहीं बन पाई थी। अब शिवसेना के पास एनसीपी के साथ मिलकर सरकार बनाने का मौका होगा, ये सरकार भी तभी बन पाएंगी जब कांग्रेस इस गठबंधन को बाहर से समर्थन दे।

 




Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*