कंगना को धमकी देना शिवसेना को पड़ा भारी, उद्धव और संजय राऊत के खिलाफ मुकदमा दर्ज, जानिए

कंगना को धमकी देना शिवसेना को पड़ा भारी
कंगना को धमकी देना शिवसेना को पड़ा भारी

नई दिल्ली। महाराष्ट्र में सियासी सरगर्मी तेज है। सरकार के खिलाफ फिल्म अभिनेत्री कंगना रनौत ने मोर्चा खोल रखा है तो वहीं कंगना के नए नवेले दफ्तर पर बीएमसी (BMC) का बुलडोजर चल चुका है। कंगना रनौत को शिवसेना की तरफ से जमकर धमकी दी जाने लगी है। शिवसेना समेत सभी साथी दल के नेता एक-एक कर कंगना पर जुबानी वार कर रहे हैं। शिवसेना के वरिष्ठ नेता संजय राऊत तो कंगना के बयानों से इतना तिलमिला गए की कंगना के लिए अभद्र टिप्पणी करने से भी नहीं चुके। बीएमसी द्वारा कानून का हवाला देकर कंगना के कार्यालय में तोड़फोड़ को जायज ठहराने की कोशिश की जा रही है तो वहीं इसके ठीक एक दिन बाद शिवसेना ने अपने मुखपत्र सामना में जो कुछ लिखा उसका शीर्षक रखा ‘उखाड़ दिया’।

शिवसेना नेता गिरफ्तार: पूर्व नेवी ऑफिसर की पिटाई करने वाले पर एफआईआर दर्ज, उद्धव सरकार से इस्तीफा,,,

वहीं कंगना ने भी अपने ऑफिस में हुए तोड़फोड़ के लिए वीडियो संदेश के जरिए जमकर उद्धव ठाकरे पर हमला बोला और अब उसने बाला साहेब ठाकरे का वीडियो जारी कर सोनिया गांधी को भी अपने निशाने पर ले लिया है। कंगना के द्वारा वीडियो संदेश में उद्धव ठाकरे के लिए किए गए तू, तूझे जैसे शब्दों को अपमानजनक बताकर उसके खिलाफ मुंबई में मामला दर्ज कराया गया है। लेकिन कंगना पर मामला दर्ज कराने वाले लोगों को संजय राऊत का वह बयान ध्यान नहीं रहा जिसमें उन्होंने कंगना के लिए ‘हरामखोर’ शब्द का प्रयोग किया और बाद में उसका रूपांतरण कर कहा कि उनका मतलब ‘नॉटी’ से था। अब संजय राऊत का बयान उनके और उद्धव ठाकरे के लिए भी मुसीबत बन गया है।

अब कंगना रनौत मामले में एक मुकदमा बिहार में भी दर्ज हुआ है। सामाजिक कार्यकर्ता एम राजू नैयर ने मुजफ्फरपुर के सीजेएम कोर्ट में महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे और शिवसेना नेता संजय राउत के खिलाफ यह मुकदमा दर्ज कराया है। सामाजिक कार्यकर्ता ने उद्धव ठाकरे और संजय राउत पर फिल्म अभिनेत्री कंगना रनौत को धमकी देने के आरोप में यह मामला दर्ज करवाया है। इससे पहले मुंबई के विक्रोली थाने में कंगना रनौत के खिलाफ केस दर्ज कराया गया है। यह केस सीएम उद्धव ठाकरे के खिलाफ कंगना द्वारा इस्तेमाल की गई भाषा को लेकर दर्ज की गई है।

मुंबई: शरद पवार ने कंगना रनौत के दावे पर कसा तंज, कहा-इच्छा है कि कोई मेरे नाम पर…

दरअसल दफ्तर तोड़े जाने के बाद फिल्म अभिनेत्री ने सीएम उद्धव ठाकरे पर हमला बोलते हुए एक वीडियो ट्वीट किया था। इसमें कंगना कह रही हैं, ”तुम्हारे पिताजी के अच्छे कर्म तुम्हें दौलत तो दे सकते हैं मगर सम्मान खुद कमाना पड़ता है, मेरा मुंह बंद करोगे मगर मेरी आवाज, मेरे बाद सौ, फिर लाखों में गूंजेगी, कितने मुंह बंद करोगे? कितनी आवाजें दबाओगे? कब तक सच्चाई से भागोगे तुम कुछ नहीं हों सिर्फ वंशवाद का एक नमूना हो।”

इससे पहले भी कंगना रनौत ने अपने ट्वीट में संजय राउत पर निशाना साधते हुए कहा था कि संजय राउत ने मुझे खुली धमकी दी है और कहा है कि मैं मुंबई वापस ना आऊं। पहले मुंबई की सड़कों में आजादी के नारे लगे और अब खुली धमकी मिल रही है। ये मुंबई पाकिस्तान अधिकृत कश्मीर की तरह क्यों लग रहा है?

महाराष्ट्र: BJP विधायक ने अमित शाह को लिखी चिट्ठी, राष्ट्रपति शासन लगाने की रखी मांग

इस बयान को लेकर शिवसेना आईटी सेल ने ठाणे के श्रीनगर पुलिस स्टेशन में कंगना पर मुंबई की तुलना पाकिस्तान अधिकृत कश्मीर (पीओके) से करने पर राजद्रोह का केस दर्ज करने की शिकायत दी। इस मामले को लेकर भाजपा नेता और वरिष्ठ वकील सुब्रमण्यम स्वामी ने ट्वीट किया, ‘किस आधार पर महाराष्ट्र सरकार चाहती है कि कंगना के खिलाफ राजद्रोह का मामला दर्ज हो? किस अधिनियम की किन धाराओं को लागू किया गया है। मेरी जानकारी के अनुसार एकमात्र धारा IPC की धारा 124A है जो कंगना के लिए पूरी तरह से अनुचित है, जो उन्होंने किया है या बोला है।’

मुंबई को लेकर दिए गए बयान की वजह से कंगना और महाराष्ट्र सरकार में तल्खियां और भी ज्यादा बढ़ती जा रही है। वहीं अब महाराष्ट्र सरकार ने फैसला किया है कि वह कंगना रनौत के ड्रग कनेक्शन की जांच करेगी। महाराष्ट्र के गृह मंत्री अनिल देशमुख ने इसकी जांच की बात कही है।

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*