धरती को हरियाली युक्त बनाकर प्रदूषण से मुक्ति का मार्ग करें प्रशस्त




-मानव जीवन के लिए पर्यावरण को सहेजकर रखना होगा

मथुरा। शनिवार को रेडियो स्टेशन मसानी मोक्षधाम के पीछे यमुना तट पर एक भव्य पर्यावरण गोष्ठी आयोजित हुई। गोष्ठी में अनेको गणमान्य नागरिकों ने भाग लिया। गोष्ठी में मौजूद पदाधिकारियों का स्वागत यमुना मिशन द्वारा किया गया।
पर्यावरण गोष्ठी को संबोधित करते हुए यमुना मिशन के संस्थापक प्रदीप बंसल ने कहा कि यमुना मिशन पर्यावरण को बचाने के लिए प्रतिदिन वृक्षारोपण, जनजागरुकता अभियान एवं समय-समय पर रैली आयोजित करता रहता है। उन्होंने कहा कि हम सभी संकल्प लें कि पॉलीथिन का प्रयोग कदापि नहीं करेंगे और प्रतिदिन एक या दो वृक्ष लगाकर इस धरती को हरियाली युक्त बनाकर प्रदूषण से मुक्ति का मार्ग प्रशस्त करेंगे।
यमुना मिशन के संयोजक पं. अनिल शर्मा ने कहा कि सम्मानजनक जीवनयापन के लिये आर्थिक रूप से विकास करना ही होगा। हम सभी को अपने प्राकृतिक संसाधनों के उपयोग के प्रति कहीं अधिक जिम्मेदारी दिखानी होगी। पर्यावरण को कम से कम नुकसान पहुँचाना होगा। पर्यावरण पर ही हम सभी का जीवन निर्भर है। हम सभी को भी पर्यावरण के प्रति अपनी जिम्मेदारियों का निर्वहन करना होगा तभी इस प्रदूषण रूपी संकट से हमें मुक्ति मिलेगी। उन्होंने कहा कि मानव जीवन को सुरक्षित रखने के लिए हमें पर्यावरण को अत्यधिक सहेजकर रखना होगा।
ठा. मुकेश सिसौदिया ने कहा कि पर्यावरण को हानि पहुँचाने में औद्योगीकरण तथा जीवनशैली को जिम्मेदार माना जाता है। यह पूरी तरह सच नहीं है। हकीक़त में समाज तथा व्यवस्था की अनदेखी और पर्यावरण के प्रति असम्मान की भावना ने ही संसाधनों तथा पर्यावरण को सर्वाधिक हानि पहुँचाई है। उसके पीछे पर्यावरण लागत तथा सामाजिक पक्ष की चेतना के अभाव की भी भूमिका है। गोष्ठी की अध्यक्षता यमुना मिशन संयोजक पं. अनिल शर्मा एवं संचालन मुकेश ठाकुर ने किया।
गोष्ठी के उपरान्त भव्य वृक्षारोपण कार्यक्रम आयोजित हुआ, जिसमें कालिन्दी के तट पर वृक्षारोपण में नीम, जामुन, अमरूद, आम, पीपल, आदि के वृक्ष रोपित किए गए। वृक्षारोपण के उपरान्त आगन्तुकों के लिए जलपान की भी व्यवस्था भी यमुना मिशन द्वारा यमुना तट पर की गई।
इस अवसर पर यमुना मिशन संयोजक पं. अनिल शर्मा, गीता शर्मा, हरीश शर्मा, ठा. मुकेश सिसौदिया, देवेन्द्र चौधरी, महेश पंडित, पहलाद सिंह सेंगर, गुलाब, विनोद सैनी, भगवान सिंह, देवीराम गोला, उमेश नेता, विपिन बाबा, आलोक सेठी, ठा. मानपाल सिंह, दिनेश शर्मा, गीतेश शर्मा, गोविन्दा ठाकुर, सतीश ठाकुर आदि उपस्थित थे।
——–




Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*