Zomato: गैर-हिंदू से डिलीवरी ना लेने पर शख्स ने किया खुलासा, ऑर्डर न लेने कि बताई वजह -

Zomato: गैर-हिंदू से डिलीवरी ना लेने पर शख्स ने किया खुलासा, ऑर्डर न लेने कि बताई वजह




जबलपुर के अमित शुक्ला ने कहा संविधान ने सभी को धार्मिक स्वतंत्रता दी है।

नई दिल्ली। आए दिन हम खूब ऑर्डर Food Delivery Sites पर ही बुक कर देते हैं। इससे हमें घर बैठे-बैठे ही खाना उपलब्ध हो जाता है और हम खुश हो जाते हैं। कभी-कभी हमारा मन बदल जाता है तो हम किए हुए ऑर्डर को कैंसिल भी कर देते है। वैसे भी यह कोई बड़ी बात नहीं है, कई वजहों से हम ऐसा करते रहते हैं। मगर बुधवार को एक ऐसे ही कैंसिल का मामले पूरे देश में एक बड़ा मैटर बन गया। बता दें कि एक आदमी ने सिर्फ इसलिए अपना ऑर्डर कैंसिल कर दिया, क्योंकि उस ऑर्डर की डिलीवरी एक गैर हिंदू लड़का करने वाला था।

Zomato से अमित शुक्ला नाम के शख्स ने खाना ऑर्डर किया और यह पता चलने पर कि इस फुड को किसी गैर हिंदू ने डिलीवर करना है, तो उन्होंने यह कैंसिल कर दिया। इतना ही नहीं उन्होंने अपने पैसे वापस करने की मांग करते हुए ट्वीट भी किया। हालांकि, यह ट्वीट करके यह मामला सामने आ गया और तरह-तरह की प्रतिक्रिया सामने आने लगी। यहां तक की राजनीतिक चेहरे भी इस मामले पर बोलने लगे।

शख्स ने ट्वीट करते हुए लिखा था, ‘Zomato पर खाने का ऑर्डर कैंसिल कर दिया। क्योंकि उन्होंने एक गैर हिंदू को ऑर्डर देने के लिए भेजा था। कंपनी ने कहा कि वह डिलिवरी करने वाले शख्स को बदल नहीं सकते। साथ ही ऑर्डर कैंसिल करने पर मुझे रिफंड भी वापस नहीं दिया जा सकता’। वहीं, Zomato ने भी इस पर एक अच्छा ट्वीट करते हुए सबका दिल जीत लिया था।

Zomato ने जवाब देते हुए कहा कि ‘खाने का कोई धर्म नहीं होता है। बल्कि, ये खुद धर्म होता है।’

खुलासा करते हुए बताया
अब एक मीडिया संस्थान से इसपर बात करते हुए जबलपुर के अमित शुक्ला ने कहा, ‘संविधान ने सभी को धार्मिक स्वतंत्रता दी है। सावन का महीना चल रहा है, इसलिए मैंने डिलीवरी बॉय को बदलने का अनुरोध किया। मैं अब से Zomato से कुछ भी ऑर्डर नहीं करूंगा’।

उन्होंने आगे कहा, ‘मैं भुगतान कर रहा था तो मेरा अधिकार था कि इसे कैंसिल कर सकु। मैंने ऑर्डर किया और उन्होंने एक गैर-हिंदू बॉय को भेजा। (जब) मैंने डिलीवरी बॉय को बदलने का कहा तो उन्होंने मना कर दिया। इसलिए मुझें उनसे ऑर्डर को कैंसिल करने को कहना पड़ा।

उन्होंने बताया कि मैंने यह सिर्फ एक साधारण ट्वीट किया था। मेरे ट्वीट में कुछ भी धार्मिक मामला नहीं था, लेकिन ट्विटर पर इसे एक धार्मिक कोण दिया गया। बता दें कि हिंदू डिलीवरी लड़के के लिए पूछने पर अमित की आलोचना की गई और कई लोगों ने Zomato को अमित को ब्लॉक करने के लिए भी कहा।




Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*


Subscribe For Latest News Updates

Want to be notified when our news is published? Enter your email address and name below to be the first to know